बजरंग दल ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले का किया स्वागत

0
60

किरण पंवर। कसौली

अत्यंत प्रसन्नता और समाधान का दिन है। शताब्दियों से चले आ रहे संघर्ष, अनेक युद्ध और असंख्य बलिदानों के बाद सर्वोच्च न्यायालय ने न्याय और सत्य को आज उद्घोषित किया है। यह बात बजरंग दल कसौली ने प्रैस को जारी बयान में कहा कि 40 दिन की तथा 200 घंटे से अधिक की मैराथन सुनवाई के बाद और सब प्रकार की बाधाओं से विचलित हुए बिना दिया गया यह निर्णय विश्व के महानतम निर्णयों में से एक हैं।

हिंदू समाज लगभग 70 वर्षों के न्यायिक संघर्ष के बाद इस निर्णय की अधीरता से प्रतीक्षा कर रहा था। अन्ततः वह प्रतीक्षा पूर्ण हुई और न्याय की विजय हुई। हम सुप्रीम कोर्ट के प्रति अपनी कृतज्ञता व्यक्त करते है। स्वाभाविक ही विश्व भर में हिंदू समाज में अपार प्रसन्नता है। यह भी निश्चित है कि हिंदू का मर्यादा में रहने का स्वभाव है। इसलिए यह प्रसन्नता आक्रामक नहीं होनी चाहिए।

इसमें कोई पराजित नहीं हुआ है। किसी को अपमानित करने वाली बात नहीं होनी चाहिए। समाज का सौहार्द बना रहे इसका सबलोग प्रयत्न करें। आज कृतज्ञता का भी दिन है। सबसे पहली कृतज्ञता उन ज्ञात और अज्ञात राम भक्तों के लिए जिन्होंने इन संघर्षों में भाग लिया, कष्ट सहे और अनेकों ने बलिदान दिए। भारत का पुरातत्व विभाग, जिनके अनथक प्रयासों और अविवादित तकनीकी विशेषज्ञता के कारण माननीय न्यायाधीश इस महत्वपूर्ण निर्णय पर पहुंच सके, विशेषतौर पर अभिनंदन के पात्र है। वे सभी इतिहासज्ञ, अन्य विशेषज्ञ जिनके अकाट्य साक्ष्य इस निर्णय के आधार बने के प्रति हम आभार व्यक्त करते है। सभी वरिष्ठ न्यायविद एवं अधिवक्ता जिनके अनथक परिश्रम के कारण हिन्दू समाज को न्याय मिला है इसका हम अभिनंदन करते हैं।

हम भारत सरकार से यह अपेक्षा करेंगे कि माननीय सर्वोच्च न्यायालय के निर्णय के अनुसार वह आगामी कदम यथाशीघ्र उठाए। यह महत्वपूर्ण निर्णय भव्य राम मंदिर के निर्माण में एक महत्वपूर्ण एवं निर्णायक कदम है। हम विश्वास करते है कि भगवान राम के भव्य मंदिर का यथाशीघ्र निर्माण होगा। यह निश्चित है कि जैसे-जैसे यह मंदिर बनेगा, समाज में मर्यादाएं, समरसता, संगठन, हिंदू जीवन जीने का प्रयत्न बढ़ेगा और एक सबल, संगठित, संस्कारित हिंदू समाज विश्व में शांति और समन्वय स्थापित करने के अपने दायित्व को पूरा कर सकेगा।

इस मौके पर प्रदेश सह संयोजक पवन समैला, जिला कार्यकारी अध्यक्ष कृष्ण डोडा, जिला सह संयोजक संजीव पराशर, जिला सुरक्षा प्रमुख जीतेंद्र सहीण, जिला अखाड़ा प्रमुख सुरेंद्र कुमार, जिला गौ रक्षा प्रमुख गुरमीत सिंह, जिला सह सुरक्षा प्रमुख देवेंद्र चंदेल, जिला सह अखाड़ा प्रमुख मुकेश कासला, प्रखंड मंत्री बलवंत भट्टी, प्रखंड गौ रक्षा प्रमुख मदन लाल, नगर गौ रक्षा प्रमुख कृष्ण पाल, वीर सिंह कश्यप, जोगेंद्र कोंडल, धर्मवीर समैला व साहिल समैला आदि सहित अन्य कार्यकर्ता ने खुशी व्यक्त कर अपनी उपस्थिति दर्ज करवाई।