रेनबो स्कूल में इंटरनेशनल रोबोट्रोनिक्स प्रतियोगिता का आयोजन

0
43

विवेक। नगरोटा बगवां

राजीव गांधी इंजीनियरिंग कॉलेज नगरोटा बगवां के डॉयरेक्टर/प्रधानाचार्य डीपी तिवारी ने मुख्यातिथि के रूप में शिरकत। रेनबो इंटरनेशनल स्कूल नगरोटा बगवां में 7 नवंबर, 2019 को आविष्कार व मांइडग्रांइड के सौजन्य से एक दिवसीय इंटरनेशनल रोबोट्रोनिक्स प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। इस प्रतियोगिता में पूरे हिमाचल (शिमला, चंबा, मंडी व रोहडू) की 31 टीमों के लगभग 150 प्रतिभागियों ने अपनी वैज्ञानिक सोच को बढ़ावा देते हुए बढ़-चढ़कर भाग लिया।

इस प्रतियोगिता का शुभारंभ स्कूल के प्रधानाचार्य डॉ छवि कश्यप द्वारा दीप प्रज्ज्वलित करके किया गया। स्कूली छात्राओं द्वारा गीत माला प्रस्तुत की गई स्कूल की प्रशासन प्रबंधक मधु चौधरी ने बाहर से आई सभी टीमों के विद्यार्थियों, शिक्षकों और साथ ही ‘आविष्कार‘ से आए राजीव धावा व उनकी टीम तथा ‘माइंडग्रांइड‘ के अदित्य व उनकी टीम का अभिनंदन किया। इस प्रतियोगिता में टीमों को तीन वर्गों में विभाजित किया गया था।

इस सब टीमों के लिए ‘बौट ओलंपिक्स गेम्स‘ थीम दिया गया था, जिसमें सभी प्रतिभागियों को अपने-अपने कार्य को 4 मिनट में पूरा करना था। प्रतिभागियों ने अपनी वैज्ञानिक सोच को दर्शाते हुए जूनियर वर्ग में रेनबो वर्ल्ड स्कूल, भवारना के शिवम कुमार, अंशुल कुमार ने शार्प स्टेकी में प्रथम, रेनबो इंटरनेशनल स्कूल के आदृत पराशर, हर्षिता कौंडल व श्रेया राणा ने द्वितीय व राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला चवाड़ी (चंबा) के राघव सिंह, रोबिन कुमार, मोहित मेहरा व राकेश कुमार ने तृतीय स्थान प्राप्त किया।

मिडल वर्ग में रेनबो वर्ल्ड स्कूल भवारना के नितिन चौहान, अपूर्वा कुमारी, अशमिता जम्बाल व शीना चौधरी ने प्रथम, रेनबो इंटरनेशनल स्कूल नगरोटा बगवां के अदित्य चौहान, शुशांत मुक्ता, हर्षुल जग्गी ने दूसरा व भारती वर्मा, पूर्व सयाल व आर्यन चौधरी ने तीसरा स्थान प्राप्त किया। सीनियर वर्ग में रेनबो वर्ल्ड स्कूल भवारना की शिवांगी गुलेरिया, दिव्यांश कुमार व अक्षिता वर्मा ने प्रथम, रेनबो इंटरनेशनल स्कूल के निपुण शर्मा, केतव सोढी व अक्षत राणा ने द्वितीय व स्प्रिंगडेल स्कूल रामपुर के धीरज, लक्ष्य, योगश्वर मेहता व निखिल नेगी ने तृतीय स्थान प्राप्त किया।

कार्य के समापन में राजीव गांधी इंजीनियरिंग कॉलेज नगरोटा बगवां के डॉयरेक्टर/प्रधानाचार्य डीपी तिवारी ने मुख्यातिथि के रूप में शिरकत की। स्कूल के प्रधानाचार्य महोदय ने मुख्यातिथि को एक पौधा भेंट करते हुए स्वागत किया। कार्यक्रम में स्कूली छात्राओं द्वारा शिव स्तुति प्रस्तुत की गई। मुख्यातिथि ने कहा कि इस प्रकार की प्रतियोगिताओं में भाग लेने से बच्चों में वैज्ञानिक कुशलता का विकास होता है तथा उनमें अपनी इस वैज्ञानिक सोच को दर्शाने का मौका मिलता है।

स्कूल के प्रधानाचार्य डॉ छवि कश्यप ने मुख्यातिथि महोदय, विभिन्न स्कूलाें से आए शिक्षकों, विद्यार्थियों, आविष्कार व मांइडग्रांइड टीम का आभार प्रकट किया। उन्होंने मुख्यातिथि को स्मृति चिह्न, शॉल व टॉपी तथा आविष्कार व मांइडग्रांइड की टीमों को स्मृति चिह्न भेंट किए। साथ ही आविष्कार व मांइडग्रांइड की टीमों द्वारा मुख्यातिथि महोदय, प्रधानाचार्य महोदय व गणमान्य व्यक्तियों को स्मृति चिह्न भेंट किए गए।

मुख्यातिथि द्वारा विजयी प्रतिभागियों को प्रमाण पत्र व मैडल वितरित किए गए। स्कूल के एकैडमिक हैड मनोहर लाल मेहता ने मुख्यातिथि महोदय, आविष्कार व मांइडग्रांइड टीम, विभिन्न स्कूलों से आए प्रतिभागियों, शिक्षकों व अन्य गणमान्य व्यक्तियों का धन्यवाद करते हुए कहा कि उन्होंने अपना कीमती समय देकर इस कार्यक्रम को सफल बनाया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here