राकेश चौधरी ने चुनावी मुकाबला बनाया रोचक

0
424
उज्ज्वल हिमाचल ब्यूरो। धर्मशाला
विधानसभा उपचुनाव में धर्मशाला से निर्दलीय प्रत्याशी राकेश चौधरी की मौजूदगी से चुनावी मुकाबला बहुत रोचक हो गया है। राकेश चौधरी की नुक्कड़ सभाओं में भीड़ देख कांग्रेस और भाजपा दोनों की बेचैनी बढ़ रही है। हालत यह है कि कांग्रेस-भाजपा की नुक्कड़ सभाओं और पदाधिकारियों की बैठकों में भी राकेश चौधरी के ही चर्चे हो रहे हैं।
एक हफ्ते में कांग्रेस और भाजपा का सबसे ज्यादा जोर इसी बात पर लग रहा है कि राकेश चौधरी के बढ़ते कदमों को कैसे रोका जाए। चुनाव प्रचार की बात करें, तो जहां भाजपा और कांग्रेस की सभाओं में नाममात्र के लोग आ रहे हैं, तो वहीं दूसरी तरफ राकेश चौधरी की सभाएं भीड़ से भरी हो रही है। इस भीड़ की वजह से कांग्रेस और भाजपा को हर दिन अपनी रणनीति बदलने के लिए मजबूर कर रखा है।
चुनाव प्रचार के दौरान जहां कांग्रेस और भाजपा के नेता बड़ी-बड़ी बातें कर रहे हैं। वहीं, राकेश चौधरी सिर्फ इतना ही कह रहे हैं कि वह सभी वर्गों के आशीर्वाद के साथ जनता के आदेश पर जनता के दरबार में खड़े हैं और उन्हें पूरा विश्वास है कि जनता एक धरतीपुत्र का साथ जरूर देगी। धर्मशाला की राजनीति में लंबे अरसे के बाद त्रिकोणीय मुकाबला देखने को मिल रहा है।
कुछ वर्ष पहले मेजर विजय सिंह मनकोटिया बसपा के प्रत्याशी के रूप में धर्मशाला से लड़े थे, उस समय भी काफी हद तक मुकाबला त्रिकोणीय हुआ था। अब राकेश चौधरी ने भी अपने जलवे से राजनीति के रणनीतिकारों को हर रोज सोचने पर विवश कर दिया है